हैप्पी बर्थडे राकेश रोशन : इसलिए राकेश रोशन के सिर पर बाल नहीं हैं, जानिए उन्हें ऐसा क्यों लगता था | आज भारतीय फिल्म निर्माता निर्देशक पटकथा लेखक राकेश रोशन का जन्मदिन

साल 2000 में उन्होंने अपने बेटे को कास्ट करते हुए कहो ना प्यार फिल्म बनाई। इस फिल्म का निर्देशन भी खुद ही किया है। यह फिल्म उस समय की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म बन गई थी।

हैप्पी बर्थडे राकेश रोशन : इसलिए राकेश रोशन के सिर पर बाल नहीं हैं, जानिए उन्हें ऐसा क्यों लगता था?

राकेश रोशन ने बाल न रखने की कसम खाई, जानिए क्या थी वजह

छवि क्रेडिट स्रोत: इंस्टाग्राम

हैप्पी बर्थडे राकेश रोशन : एक बेहतरीन अभिनेता (अभिनेता) एक महान निर्देशक और एक महान व्यक्ति आज हम राकेश रोशन के बारे में बात कर रहे हैं (राकेश रोशन)जिन्होंने अपने फिल्मी करियर में एक के बाद एक फिल्मों में शानदार अभिनय किया था। उन्होंने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत 1970 में ‘घर घर की कहानी’ से की थी। राकेश रोशन आज 73 साल के हो गए हैं। आज राकेश रोशनउनका जन्मदिन है, हम उन्हें उनके जीवन से जुड़े कुछ रोचक तथ्य बताएंगे।

राकेश रोशन का जन्म 6 सितंबर 1949 को हुआ था

राकेश रोशन का जन्म 6 सितंबर 1949 को मुंबई में हुआ था। राकेश रोशन के पिता एक संगीत निर्देशक थे और उनकी माँ एक बंगाली गायिका थीं।राकेश रोशन ने अपने करियर में कुल 84 फ़िल्में की हैं। राकेश रोशन ने महाराष्ट्र के सौनिक स्कूल से किया है। उसकी शादी पिंकी से हुई थी। ओमप्रकाश की बेटी कौन थी उसके 2 बच्चे हैं बेटा ऋतिक रोशन और बेटी सुनयना रोशन, ऋतिक रोशन बॉलीवुड में एक जाना माना नाम है।

शुरुआती फिल्में फ्लॉप रहीं

राकेश रोशन ने बतौर अभिनेता बहुत कम फिल्मों में काम किया है। बतौर अभिनेता उनका करियर अच्छा नहीं रहा है। 1980 में उन्होंने अपनी खुद की प्रोडक्शन कंपनी बनाई। उनके पास अपने प्रोडक्शन बैनर के तहत साल की फिल्म आप के दीवाने है। फिल्म बॉक्स ऑफिस पर बुरी तरह फ्लॉप हुई थी। इस फिल्म के बाद राकेश रोशन ने फिल्म कामचोर बनाई जो हिट साबित हुई।

बतौर निर्देशक राकेश रोशन की फिल्में हिट रहीं

राकेश रोशन ने फिल्म ‘खुदगर्ज’ से बतौर डायरेक्टर डेब्यू किया था। फिल्म बॉक्स ऑफिस पर औसत रही। इसके बाद उन्होंने ‘किशन कन्हैया’ और ‘करण-अर्जुन’ जैसी फिल्में कीं, जो बॉक्स ऑफिस पर सुपरहिट साबित हुईं। इसके बाद साल 2000 में उन्होंने बेटे को कास्ट करते हुए कहो ना प्यार है फिल्म बनाई। उन्होंने इस फिल्म का निर्देशन भी किया था।

कभी बाल न रखने की कसम

राकेश रोशन के साथ एक बात जुड़ी हुई है। जिसके बारे में शायद आप नहीं जानते होंगे। साल 1987 में राकेश रोशन ने पहली बार फिल्म ‘खुदगर्ज’ से निर्देशन किया था। फिल्म की रिलीज से पहले राकेश रोशन ने अपनी फिल्म की सफलता का श्रेय तिरुपति बालाजी को दिया और कहा कि अगर फिल्म सफल रही तो वह तिरुपति जाएंगे और अपने बाल दान करेंगे। मान्यता के अनुसार, रोकाश बालाजी ने जाकर अपने बाल दान कर दिए, लेकिन उन्होंने बाल दान करने के साथ-साथ शपथ भी ली कि वह सिर पर बाल नहीं रखेंगे। उसके बाद उनकी सभी फिल्में हिट रहीं।

राकेश रोशन की 2 अंडरवर्ल्ड शूटरों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी

साल 2000 में राकेश रोशन ने कहो ना प्यार है बनाई। फिल्म ब्लॉकबस्टर साबित हुई लेकिन फिल्म की सफलता के कारण राकेश रोशन की अंडरवर्ल्ड शूटर 14 जनवरी 2000 को रिलीज हुई। 21 जनवरी 2000 को, फिल्म की रिलीज़ के ठीक 7 दिन बाद, राकेश रोशन की तिलक रोड पर उनके कार्यालय के बाहर दो निशानेबाजों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी।

एक गोली उनके कंधे में और दूसरी उनके सीने में लगी। गोली लगने के बाद चालक उसे अस्पताल ले गया, जिससे उसकी जान बच गई। कहा जाता है कि उन पर जो गोली चलाई गई वह असल में उन्हें डराने के लिए थी न कि उन्हें मारने के लिए। उन्हें धमकी दी गई थी कि वह अपनी फिल्म ‘कहो ना प्यार है’ के मुनाफे का हिस्सा अंडरवर्ल्ड को भी दे दें।

Source link

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.